About Us

देश में तकनीकी विकास एवं बेरोजगार नवयुवकों एवं नवयुवतियों को तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान कर उन्हें सवेतन रोजगार व स्व रोजगार के योग्य बनाने के उद्देश्य से इस संस्थान की स्थापना की गई है । संस्थान निदेशक प्रशिक्षण, व्यवसायिक शिक्षा विभाग, उ0प्र0 सरकार के माध्यम से भारत सरकार से सम्बद्ध है।

संस्थान के पास इलेक्ट्रीशियन एवं फिटर विधाओं की सुसज्जित प्रयोगशालायें एवं कार्यशालाये हैं जिससे भारत सरकार के मानको के अनुरुप समस्त मशीनरी एवं उपकरण आदि उपलब्ध है। संस्थान के पास अनुभवी स्टाफ एवं अनुदेशक कार्यरत है । संस्थान का वातावरण शोर, धुएं व अन्य प्रकार के प्रदूषण से मुक्त है ।

संस्थान के पास अपना सुसज्जित भवन है जिसमें मानकों के अनुरुप शिक्षण कक्षा तथा सभी व्यवसायों (विद्दुतकार फिटर) की कार्मिक प्रयोगशालाएं विद्दमान है। इससे अतिरिक्त यह संस्थान अतिथिगृह,खेल का मैदान तथा छात्रों के लिए जनरेटर जैसी सुविधओं से युक्त है ।

 

अनुशासन


1.         सभी प्रशिक्षार्थियों को अपना परिचय पत्र अपने साथ रखना अनिवार्य है, जिसे संस्थान के निदेशक प्रधानाचार्य कार्यदेशक तथा अनुदेशक के मांगने पर प्रशिक्षार्थी को दिखाना होगा। परिचय पत्र न दिखाने पर उसके विरुद्ध दण्डात्मक कार्यवाही करने का संस्थान को पूरा अधिकार होगा।
2.       कोई प्रशिक्षार्थी कक्षा में न तो देर से आयेगा और न ही उसे छोड़कर जल्दी जायेगा।
3.       कोई  भी प्रशिक्षार्थी संस्थान के प्रागण में इधर उधर नही घूमेगा और न ही गैलरी में अथवा कक्षा के सामने खड़े होकर शोर करेगा।
4.       कोई भी प्रशिक्षार्थी संस्थान की दीवारों, दरवाजों,खिड़कियों आदि पर न तो विञापन लगायेगा और न ही कुछ लिखकर या चित्र बनाकर उन्हे विकृत करेगा।
5.       संस्थान में प्रशिक्षण पा रहे प्रशिक्षार्थी किसी दूसरी संस्था में प्रवेश नही ले सकेगे। ञात होने पर उनका प्रवेश निरस्त कर दिया जायेगा जिसका पूर्ण उत्तरदायित्व संबंधित प्रशिक्षार्थी को होगा।
6.       प्रशिक्षार्थी अपनी किसी मांग को सामूहिक रुप से प्रस्तुत नहीं करेंगे और न ही उसके समर्थन में कोई प्रदर्शन, हड़ताल आदि करने का प्रयास करेगा।
7.       कोई भी प्रशिक्षार्थी अनुमति प्राप्त किये बिना संस्थान के कार्यालय में प्रवेश नहीं करेगा।
8.       कोई भी प्रशिक्षार्थी अपने किसी कार्य के लिए किसी बाहरी व्यक्ति से दबाव अथवा सिफारिश कराने का प्रयास नही करेगा।
9.       कोई भी प्रशिक्षार्थी अपने साथ किसी बाहरी व्यक्ति को लेकर संस्थान परिसर में नहीं आयेगा।
10.   संस्थान में पान मसाला खाने और धुम्रपान करना निषेध है।
11.   कोई भी प्रशिक्षार्थी संस्थान में किसी के साथ अशोभनीय व्यवहार नहीं करेगा।
12.   प्रधानाचार्य ऐसे किसी भी प्रशिक्षार्थी को संस्थान से निष्कासित कर सकते है, जिसका प्रवेश संस्थान अनुशासन के हित में न हो।

  1.  

सुविधायें

1.       संस्थान द्रारा प्रशिक्षार्थीयो के लिये भविष्य में छात्रावास की सुविधा उपलब्ध कराई जायेगी।
 
2.       संस्थान द्रारा सामान्यत खेलकुद व मनोरंजन की सुविधायें उपलब्ध करायी जाती है।
 
3.       संस्थान के पास एक अच्छा पुस्तकालय है जिसके द्रारा प्रशिक्षार्थीयो को समय समय पर पुस्तके पढ़ने के लिये दी जाती है।
 
4.       प्रशिक्षण के दौरान विभिन्न प्रयोगशालोओं एवं कम्पनियों का अवलोकन कराया जाता है।